mohbbat ke naam se dar lagta hai


रोज़ ढलती हुई शाम से दर लगता हैं,
अब मुझे इश्क़ के अंजाम से दर लगता है !
 जब से तुमने मुझे  धोखा दिया,
तबसे मोहब्बत के नाम से डर लगता है !!

Comments

Popular posts from this blog

Acha nahi lagta

Tutata Sitara