Tera Hi Naam


मुझे अब भी मुहब्बत है   ....... 
तेरे क़दमों की आह्ट से ,
तेरी हर मुस्कराहट से ,
तेरी बातों की खुश्बू से ,
तेरी आँखों के  जादू से ,
तेरी दिलकश वादो  से , 
तेरी कातिल अदाओं से ,
मुझे अब भी मुहब्बत है   ....... 
तेरी राहों में रुकने से ,
तेरी पलकों के झुकने से ,
सेहर ओ शाम होठों पे ,
"रस्क" तेरा  ही नाम लिखने से ,
तेरे तैश ओ अदावत से ,
तेरी बेजा शिकायत से ,
यहाँ तक के मेरे ऎ दोस्त ,
तेरी हर एक आदत से ,
मुझे अब भी मुहब्बत है  .......  
मुझे अब भी मुहब्बत है ....... 

Comments

Popular posts from this blog

Acha nahi lagta

Tutata Sitara