Teri ada samjhu




तेरे होने पर भी खुद को तनहा समझूँ ,
में बेवफा हूँ  के तुजे बेवफा समझूँ 

तेरी बेरुखी से वक़्त तो गुज़र गया हें मेरा 
यह खुद्दारी हें तेरी या तेरी अदा समझूँ. 

तेरे बाद क्या हाल हुआ हें मेरा 
ये तेरी इनायत हें या अदा समझूँ. 

"रस्क "ज़ख़्म देती हो और मरहम भी लगाती हो 
यह तेरी आदत हें या तेरी अदा समझूँ

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

Acha nahi lagta

Tutata Sitara