Tuesday, December 26, 2017

khush hai wo


बड़े खुश है आज मेरे बिना भी वो,
जो दूर जाने के जिक्र पे होंठो पे हाथ रख देते थे..

Dost

मै यादों का किस्सा खोलूँ तो,
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं.
मै गुजरे पल को सोचूँ तो,
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं.
अब जाने कौन सी नगरी में,
आबाद हैं जाकर मुद्दत से.
मै देर रात तक जागूँ तो ,
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं.
कुछ बातें थीं फूलों जैसी,
कुछ लहजे खुशबू जैसे थे,
मै शहर-ए-चमन में टहलूँ तो,
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं.
सबकी जिंदगी बदल गयी
एक नए सिरे में ढल गयी
किसी को नौकरी से फुरसत नही
किसी को दोस्तों की जरुरत नही
कोई पढने में डूबा है
कोई पढाने मे
सारे यार गुम हो गये हैं
"तू" से "तुम" और "आप" हो गये है
मै गुजरे पल को सोचूँ
तो, कुछ दोस्त
बहुत याद आते हैं.
धीरे धीरे उम्र कट जाती है
जीवन यादों की पुस्तक बन जाती है,
कभी किसी की याद बहुत तड़पाती है
और कभी यादों के सहारे ज़िन्दगी कट जाती है ...
किनारो पे सागर के खजाने नहीं आते, फिर जीवन में दोस्त पुराने नहीं आते ...
जी लो इन पलों को हस के दोस्त,
फिर लौट के दोस्ती के जमाने नहीं आते ..

Sunday, December 24, 2017

Silent love

उसकी रूह में सन्नाटा है  और मेरी आवाज में चुप्पी !
वो अपने अंदाज़ में चुप, मै मेरे अंदाज में चुप !!

Friday, November 10, 2017

आज तो दिल को भर के जाइए।

घड़ी दो घड़ी ठहर के जाइए,
आज तो दिल को भर के जाइए।

अब अंधेरों से लड़ा नहीं जाता,
मेरी रातों में चांद कर के जाइए।

ये उदासियां नहीं जमती तुम पर,
मुस्कुराहटों से संवर के जाइए।

मुहब्ब्त में जो कभी किए नहीं,
उन वादों से ना मुकर के जाइए।

अजी नहीं जी पाओगे हमारे बगैर,
ऐसे खयालातों से डर के जाइए।

खोये हुए ख़्वाबों का कारवां मिलेगा,
दिल की गली से गुज़र के जाइए।

Wednesday, August 23, 2017

मोहब्बत की चमक


मेरी आँखों में मोहब्बत की चमक आज भी है, 
हालाँकि उसको मेरे प्यार पर शक आज भी है! 
नाव में बैठ कर धोये थे उसने हाथ कभी,
पुरे तालाब में मेहँदी की महक आज भी है!

Teri yaad bhut ab aane lagi hai ek jaan hai ab woh jaane lagi hai...


Saturday, July 8, 2017

Ek Sham Tere Naam !!


ना सितारों की जगमाहट 
ना चाँद की चाँदनी 
शबनमी आलम में दूर तक बस मोहब्बत की ख़ामोशी 
और उसमे झिलमिलाती तुम्हारे प्यार की रोशनी 
यादों की महक और मोहब्बत के एहसास जगा जाती है 
फिर से होने लगा है इस दिल को तुम्हारा इंतज़ार 
यह लम्हा बस मेरी यादों में ही आ जाओ 
मेरी शाम को फिर रोशन कर दो !!

Friday, April 14, 2017

Gubbare



गुब्बारों सी जिन्दगी हो गयी है
कभी मुँह फुला देती है
कभी पुस्स्स से भाग जाती है
हर हाल में देती है ख़ुशी का अहसास !!

Thursday, April 6, 2017

See Your Love


तेरी मोहब्बत तो देख ली,
अब तेरी नफरत को आज़माएंगे !
चाहेंगे तो तुझे उम्र भर,
वह तो कभी कम न कर पाएंगे !!
अब डरते हैं वो रुस्वाई से ,
उनकी नरफत को रुस्वा हम कर जायेंगे,
"नरपत " एक शाम वो बहुत रोयेंगे,
हम उन्हें बहुत याद आएंगे 


Sunday, January 29, 2017

Dost



मेरी रुह निकलने वाली होगी
मेरी सांस बिखरने वाली होगी
फ़िर दामन जिंदगी का छूटेगा
धागा सांस का भी छूटेगा
फ़िर वापस हम ना आयेंगे
फ़िर हमसे कोइ ना रुठेगा
फ़िर आंखोंमे नुर ना होगा
फ़िर दिल गम से चुर ना होगा
उस पल तुम हमको थामोगे
हम से दोस्त अपना फ़िर मांगोगे
फ़िर हम ना कुछ भी बोलेंगे
और आंखें भी ना खोलेंगे
उस पल तुम रो दोगे
और दोस्त अपना खो दोगे, दोस्त अपना खो दोगे

Saturday, January 21, 2017

true love

उतर जाते है दिल में कुछ लोग इस कदर ....... 
उनको निकालो तो जान निकल जाती है !!


Saturday, January 14, 2017

Rask



जिसे माँगा दुआओ में जिसे चाहा ख्यालों  में ,
मिला वो ख्वाब  सच बनकर हमें दिन के उजालो में !
नज़र की खुशनसीबी पर ये बाहें "रस्क" करती है ,
करीब आओ करीब आओ करीब आओ !!
सिमट आये है पहली ही नज़र  में फासले दिल के,
कसम खाते है हम तुम से जुदा न होंगे अब मिल के !!
तुम्हारे साथ अब ये दुनिया हमें जन्नत सी लगती है ... 



Titli

कभी तितली को तरह, कभी सावन की तरह ! हमने चाहा है जिसे, टूटकर बचपन की तरह !! मेरी गजले हसी जेवर है, वो पहने तो सही ! उसकी ...