Sunday, May 31, 2015

Meri Sans


एक दिन जब मेरी साँस बंद हो जाएगी ,
मत सोचना की मेरी चाहत खत्म हो जाएगी 
फर्क सिर्फ इतना होगा . . . 
आज हम आपको याद कर के रोते है ,
कल मेरी यादें आपको रुलाएगी  . . . . . 

Titli

कभी तितली को तरह, कभी सावन की तरह ! हमने चाहा है जिसे, टूटकर बचपन की तरह !! मेरी गजले हसी जेवर है, वो पहने तो सही ! उसकी ...